अन्य खबरें अपराध अरुणाचल प्रदेश असम

राष्ट्रपति ट्रंप ने गणतंत्र दिवस पर चीफ गेस्ट बनने का निमंत्रण ठुकराया, भारत से तल्ख हुए रिश्ते

sider2

kalyanjewellers_356_1603_356
20191130013019_Tata-Altroz
download (2)
coronavirus-covid19-2019ncov-infographic-showing-600w-1663453870
be4e35ef-5e47-46f8-b5ac-24dc3a600585
images
kalyanjewellers_356_1603_356 20191130013019_Tata-Altroz download (2) coronavirus-covid19-2019ncov-infographic-showing-600w-1663453870 be4e35ef-5e47-46f8-b5ac-24dc3a600585 images

नई दिल्ली: अगले गणतंत्र दिवस समारोह में चीफ गेस्ट के तौर पर शामिल होने के भारत के निमंत्रण को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कथित तौर पर ठुकरा दिया है. भारत की तरफ से डोनाल्ड ट्रंप को अगस्त महीने में निमंत्रण भेजा गया था. विदेश मंत्रालय ने इस मुद्दे पर अभी तक कोई बयान नहीं जारी किया है. अमेरिका के दिल्ली में स्थित दूतावास से कहा गया है कि इस मुद्दे पर व्हाइट हाउस की तरफ से ही कुछ कहा जा सकता है.

हालांकि, ऐसा नहीं है कि यह अचानक से हुआ है. पिछले कुछ दिनों से अमेरिका अधिकारी इस ओर इशारा कर रहे थे कि डोनाल्ड ट्रंप भारतीय गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर चीफ गेस्ट बनने के भारत के निमंत्रण ठुकरा सकते हैं.

राष्ट्रपति ट्रंप के इस कदम से भारत-अमेरिका के रिश्ते में कमजोरी आएगी. यह इसलिए भी थोड़ा हैरान करने वाला है क्योंकि ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दोनों देशों के बीच अच्छे रिश्ते होने का दावा करते थे.

ट्रंप ने भारत के आमत्रंण को तब ठुकराया है जब दोनों के बीच अनेक मुद्दों पर असहमति पिछले कुछ महीनों से चली आ रही थी. भारत ने अनेक मु्द्दे पर अमेरिका की बातों को नजरंदाज करते हुए पिछले कुछ समय से देशहित में फैसले लिए हैं. इनमें यूएस सैंक्शन के बावजूद भारत अभी तक ईरान से तेल खरीद रहा है, रूस से भारत ने एस-400 लॉन्ग रेंज मिसाइल की डील की है आदि प्रमुख हैं.

रूस के साथ किसी भी देश के हथियार, मिसाइल आदि के डील करने पर अमेरिका उस देश पर प्रतिबंध लगा देता है, लेकिन भारत ने इसके बावजूद रूस से मिसाइल खरीदने की डील की है. अमेरिकी राष्ट्रपति इस बात से भी नाराज हो सकते हैं.

 

NUTV Update -
खबर जो सच है
http://www.Nutv.in