Breaking News मध्य प्रदेश

कांग्रेस अध्यक्ष ने राफेल सौदे को लेकर मोदी सरकार पर फिर साधा निशाना

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल सौदे को लेकर शनिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर फिर निशाना साधा और तंज करते हुए कहा कि इस लड़ाकू विमान की कीमत सब जानते हैं, लेकिन सरकार इसे राष्ट्रीय गोपनीयता का विषय कह रही है और इस बारे में उच्चतम न्यायालय को भी नहीं बता रही है.

राहुल गांधी ने एक खबर का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘प्रधानमंत्री जानते हैं, अनिल अंबानी जानते हैं, फ्रांस्वा ओलांद जानते हैं और एमैनुएल मैक्रों भी जानते हैं. हर पत्रकार जनता है. रक्षा मंत्रालय के बाबू जानते हैं. पूरा दसॉल्‍ट जानता है. दसॉल्‍ट के सभी प्रतिस्पर्धी जानते हैं.’

उन्होंने कहा, ‘लेकिन राफेल की कीमत राष्ट्रीय गोपनीयता है, जिसका खुलासा उच्चतम न्यायालय में भी नहीं हो सकता..’ राहुल गांधी ने जो खबर शेयर की है उसके मुताबिक वायुसेना को मिल रहे 36 राफेल विमानों की कीमत पहले की प्रस्तावित कीमत से 40 फीसद अधिक है.

इससे पहले बीते शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि वे खुलकर भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और केवल अपने उद्योगपति दोस्तों से मंजूरी लेने के बाद ही फैसले ले रहे हैं.

रमन सिंह के गृह क्षेत्र राजनांदगांव में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी अगर छत्तीसगढ़ में सत्ता में आई तो ‘भ्रष्ट’ लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेगी और किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा.

छत्तीसगढ़ में 12 नवंबर को पहले चरण के मतदान से पहले एक अन्य रैली में उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘दिल्ली में मोदीजी के 10-15 उद्योगपति दोस्त हैं और इसी तरह छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के 10-15 बड़े उद्योगपति मित्र हैं. मोदीजी और सिंह अपने इन 10-15 दोस्तों से मंजूरी लिये बिना कभी कोई काम नहीं करते.’’

राजनांदगांव की रैली में गांधी ने मोदी पर राफेल सौदे में उद्योगपति अनिल अंबानी की तरफदारी करने का आरोप लगाया और फ्रांस के राष्ट्रपति फांसवा ओलांद के खबरों में आये एक बयान का जिक्र किया.