Breaking News अन्य खबरें राजनीति

सुषमा स्वराज के चुनाव न लड़ने का पति ने किया समर्थन, बोले- थैंक्यू मैडम

नई दिल्ली: केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी. उन्होंने अपने स्वास्थ्य कारणों की वजह से यह फैसला लिया हैं. सुषमा स्वराज मंगलवार (20 नवंबर) को मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रचार करने पहुंची और पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने अपना ये फैसला सुनाया. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के इस फैसले ने कई लोगों को चौका दिया, लेकिन सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल ने अपनी पत्नी के इस फैसले ने बहुत ही दिलचस्प रिऐक्शन दिया.

अपनी पत्नी सुषमा स्वराज के फैसला का स्वागत करते हुए उन्होंने एक ट्वीट कर उन्हें शुक्रिया कहा. उन्होंने ट्वीट कर कहा- मैडम, आपने ये जो अब कभी चुनाव न लड़ने का फैसला किया है, उसके लिए आपका बहुत-बहुत शुक्रिया. मुझे याद है कि एक ऐसा भी वक्त आया था, जब खुद मिल्खा सिंह ने दौड़ना छोड़ दिया.

पत्नी के इस फैसले पर खुशी जताते हुए स्वराज कौशल ने एक अन्य ट्वीट करते हुए कहा, ‘ये मैराथन 1977 से दौड़ रही हैं आप. मतलब पिछले 41 सालों से. आपने 11 चुनाव लड़े हैं. बल्कि 1977 से अब तक जितने भी चुनाव हुए हैं, सब लड़े हैं आपने. सिवाय दो के. 1991 और 2004 में, जब पार्टी ने आपको चुनाव नहीं लड़ने दिया था. मैं भी पिछले 47 सालों से आपके पीछे दौड़ रहा हूं. मैं अब 19 साल का जवान नहीं हूं. प्लीज, मेरा भी दम फूल रहा है. थैंक यू.’

मंगलवार को इंदौर पहुंचीं सुषमा ने कहा कि चुनाव न लड़ने का मतलब ये नहीं कि वो राजनीति से रिटायर हो रही हैं. सुषमा ने कहा कि उन्होंने अपनी सेहत को देखते हुए अगला लोकसभा चुनाव न लड़ने का फैसला लिया है. कुशल वक्ता के रूप में पहचान रखने वाली सुषमा स्वाराज इस वक्त 66 साल की हैं और वह फिलहाल मध्य प्रदेश के विदिशा से सांसद हैं. मूलरूप से हरियाणा के अंबाला कैंट की रहने वाली सुषमा स्वराज वकालत के पेशे से राजनीति में आई हैं. उनके पिता आरएसएस के प्रमुख सदस्य थे. सुषमा अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में सूचना प्रसारण मंत्री रह चुकी हैं.