Breaking News अन्य खबरें खेल

World Cup 2019 Final : इंग्लैंड की मजबूत बल्लेबाजी का मुकाबला न्यूजीलैंड की घातक गेंदबाजी से


लंदन। मेजबान इंग्लैंड को आज ऐतिहासिक लॉर्ड्स के मैदान पर होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप के फाइनल में न्यूजीलैंड से कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद है। मुकाबला चाहे जैसा हो इतिहास रचा जाना तय है क्योंकि दुनिया को नया वर्ल्ड चैंपियन मिलेगा। इस फाइनल को इंग्लैंड की मजबूत बल्लेबाजी और न्यूजीलैंड की घातक गेंदबाजी के मुकाबले के रूप में देखा जा रहा है।
इंग्लैंड के सभी बल्लेबाज इस वर्ल्ड कप में फॉर्म में चल रहे हैं। जो रूट 10 मैचों में 68.62 की औसत से 549 रन बना चुके है। जॉनी बेयरस्टो 10 मैचों में 496 और जेसन रॉय 7 मैचों में 426 रन बना चुके है। बेन स्टोक्स के नाम भी 381 रन दर्ज है। इंग्लैंड के बल्लेबाज 6.43 रन प्रति ओवर की दर से रन बना रहे हैं, जो इस टूर्नामेंट में किसी भी टीम की तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
जेसन रॉय की वापसी के बाद तो मेजबान बल्लेबाज रनों की फसल काट रहे हैं। रॉय और जॉनी बेयरस्टो की सलामी जोड़ी 128, 160, 123 और 124 रनों की ओपनिंग साझेदारी कर चुकी है। इसके विपरीत न्यूजीलैंड की तरफ से पिछले सात मैचों में एक बार भी पहले विकेट के लिए अर्द्धशतकीय साझेदारी नहीं हुई है। न्यूजीलैंड की तरफ से सिर्फ कप्तान केन विलियम्सन बल्लेबाजी में जोर लगा रहे हैं। वे अभी तक 9 मैचों में 548 रन बना चुके हैं।
कीवी टीम को इस मैच में रॉस टेलर और मार्टिन गप्टिल से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी। इंग्लैंड के बल्लेबाजों की राह आसान नहीं होगी क्योंकि उनका मुकाबला न्यूजीलैंड के ट्रेंट बोल्ट, लोकी फर्ग्यूसन और मैट हैनरी की तिकड़ी से होगा। इसके अलावा ऑलराउंडर जिमी नीशम की उनके लिए मुश्किलें खड़ी करना चाहेंगे। फर्ग्यूसन 18 और बोल्ट 17 शिकार कर चुके हैं।
हैनरी 13 और नीशम भी 12 विकेट अपनी झोली में डाल चुके हैं। इस वर्ल्ड कप के दौरान फर्ग्यूसन हर 24वीं और बोल्ट हर 31वीं गेंद में विकेट ले रहे है। हमने देखा था कि श्रीलंका ने इंग्लैंड के शुरुआती बल्लेबाजी क्रम को जल्दी आउट कर किस तरह जीत दर्ज की थी, न्यूजीलैंड भी उसी बात को दोहराना चाहेगा। वह ऐसा भारत के खिलाफ सेमीफाइनल में कर चुका है इसलिए इंग्लैंड के बल्लेबाजों को शुरुआती ओवरों में संभलकर खेलना होगा।