Breaking News अन्य खबरें राज्य

मिशन बंगाल:BJP के ‘फार्मूला- 23’ में MP की तिकड़ी, विजयवर्गीय व नरोत्तम के बाद प्रहलाद पटेल को बड़ी जिम्मेदारी

sider2

No Slide Found In Slider.


बीजेपी ने ममता बनर्जी के गढ़ पश्चिम बंगाल को भेदने के लिए फार्मूला 23 बनाया है। इसमें मध्य प्रदेश के तीन नेता शामिल किए गए हैं। राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय पहले ही बंगाल में बीजेपी के चुनाव अभियान का नेतृत्व कर रहे हैं। पार्टी ने बंगाल के 23 जिलों में जीत दर्ज करने के लिए 5 केंद्रीय पर्यवेक्षकों को नियुक्त किया था। अब इनकी संख्या बढ़ाकर 12 कर दी है। नए 7 पर्यवेक्षकों में मध्य प्रदेश से केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल और मप्र के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को शामिल किया गया है। मिश्रा पिछले एक माह से बंगाल के लगातार दौरे कर रहे हैं। अब पार्टी ने पर्यवेक्षक की ज़िम्मेदारी सौंपी है। विजयवर्गीय सहित तीनों नेता की रिपोर्टिंग सीधे राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा को होगी।
पार्टी सूत्रों ने बताया कि पश्चिम बंगाल में कुल 294 सीटों में कम से कम 200 सीटें जीतने का टारगेट रखा है। इसके मद्देनज़र बीजेपी ने हर जिले पर फोकस करने के लिए ‘फार्मूला 23’ बनाया है। इसमें अलग-अलग नेताओं को ज़िम्मेदारी सौंपी गई है। पहले 23 जिलों के लिए सुनील देवधर, विनोद सोनकर, दुष्यंत गौतम, विनोद तावड़े तथा अमित मालवीय को केंद्रीय पर्यवेक्षक बनाया गया था। इस लिस्ट में अब 7 और नेताओं को शामिल किया गया है, जो बंगाल में भाजपा के संगठन को मजबूत बनाने के साथ-साथ चुनाव संबंधी तैयारियों का आकलन करने के साथ ही मैदानी फीडबैक इकट्ठा करने के लिए कैंप करेंगे।
मोदी की पसंद है पटेल, शाह को मिश्रा पर भरोसा
पार्टी सूत्रों ने बताया कि बंगाल चुनाव के लिए केंद्रीय पर्यवेक्षक बनाए गए प्रहलाद पटेल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पसंद हैं, जबकि नरोत्तम मिश्रा पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को भरोसा है, इसलिए दोनों नेता मिशन बंगाल में शामिल किए गए हैं। दरअसल, पटेल को मध्य प्रदेश के अलावा दूसरे राज्यों के विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए काम करने का अनुभव रहा है। उन्हें मणिपुर का प्रभारी बनाकर भेजा गया था और वहां के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने शानदार जीत दर्ज की थी।उनके ट्रैक रिकॉर्ड को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय नेतृत्व ने उन्हें बंगाल में महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारी सौंपी है। इसी तरह नरोत्तम मिश्रा को इस अभियान में शामिल करने की वजह भी है। मध्य प्रदेश में हुए उप चुनाव में उनके प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी ने उन्हें पश्चिम बंगाल में लगाया जा रहा है।
एमपी में बंगाली समाज को एकजुट करने में लगे हैं मिश्रा
नरोत्तम मिश्रा मध्य प्रदेश में बंगाली समाज को एकजुट करने की कवायद में लगे हुए हैं। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ प्रचार करने के लिए भोपाल से बंगाली समाज के लोगों की एक स्पेशल ट्रेन कोलकाता ले जाने का प्लान बनाया है। इसी सिलसिले में प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने 14 दिसंबर को भोपाल भोजपुर क्लब में आयोजित बंगाली समाज के बैठक में शामिल हुए थे। इस कार्यक्रम में मिश्रा ने समझाने की कोशिश की कि प. बंगाल में राष्ट्रवाद बीजेपी ही ला सकती है। ममता बनर्जी के रहते यह संभव नहीं है।
बंगाल के नए 7 केंद्रीय पर्यवेक्षक
मध्य प्रदेश – प्रहलाद सिंह पटेल व नरोत्तम मिश्रा
राजस्थान- गजेंद्र सिंह शेखावत
झारखंड – अर्जुन मुंडा
गुजरात – मनसुख मंडाविया
उत्तर प्रदेश – डॉ. संजीव बाल्यान और केशव प्रसाद मौर्या

NUTV Update -
खबर जो सच है
http://www.Nutv.in